बीबी ने अपनी भाभी की चूत दिलवाई 

मैं 32 साल का विवाहित आदमी हूँ. मेरी शादी को 5 साल हो गए हैं. मेरा सेक्स जीवन भी संतोषजनक है. लेकिन दूसरे लोगों की तरह मुझे भी दूसरी चुत चोदने का मन करता था.
मेरी बीवी ने मुझे अपनी भाभी के बारे में बताया था कि वो एक बहुत ही चुदासी औरत हैं. उनके साथ मेरी बीवी ने खूब लेस्बो का मजा लिया है.
एक बार मेरी वही सलहज गर्मी की छुट्टी में अपने दो साल के बच्चे के साथ हमारे यहाँ आईं. मैं उनको देखता ही रह गया. वो मुझे खुद को इस तरह देखते हुए मुस्कुरा कर अन्दर चली गईं. वो एक 34 साल की बहुत गोरी और मस्त माल हैं. उनके मस्त मम्मे, उभरी हुई गांड देख कर किसी का भी लंड खड़ा हो जाए.
मैं शाम को ऑफिस से आया तो देखा कि वो सिर्फ़ एक मैक्सी में मेरी बीवी के साथ किचन में हैं.
मैंने हाथ मुँह धोकर कपड़े चेंज किए और लुंगी बनियान में कमरे में बैठकर टीवी देखने लगा. तभी वो मेरे लिए चाय लेकर आईं. वो जैसे ही मुझे चाय देने के लिए झुकीं, मेरी नज़र उनकी नंगी चूचियों पर पड़ी. ये देख कर मेरा 7″ लंबा और 2.5″ मोटा लंड खड़ा हो गया.

उनकी नज़र भी जब मेरे लंड पर पड़ी तो वो मुस्कुरा कर किचन में चली गईं.
हम लोगों ने रात में खाना खाया और मैं कमरे में जाकर लेट गया. किचन का काम निपटाकर दोनों कमरे में आईं, तो मैं अपनी सलहज के बेटे के बगल में बेड पर लेटा था.

मेरी बीवी ने अपना बिस्तर नीचे लगाया और दोनों एक साथ लेट गईं. मेरी बीवी सिर्फ़ पेटीकोट और ब्लाउज में थी.

मैं आँख बंद करके सोने की कोशिश कर रहा था, तभी मेरे कानों में आवाज़ पड़ी तो मैंने अपनी बीवी की तरफ देखा. मेरी बीवी अपनी भाभी की चूचियाँ बाहर निकाल कर उनको दबा रही थी और चूम रही थी. कुछ देर में ही दोनों बिल्कुल नंगी होकर एक-दूसरे की चूचियाँ दबाने और चूसने लगीं. ये देखकर मेरा लंड भी खड़ा हो गया.
अब मैं बैठकर अपनी सलहज का नंगा जिस्म बड़े ध्यान से देख रहा था. तभी मेरी बीवी की नज़र मुझ पर पड़ी, उसने मुझसे कहा- नींद नहीं आ रही क्या?

‘ये सब देख कर नींद कैसे आएगी?’

उसने मुझे बुलाकर अपना एक मम्मे को मेरे मुँह में डाल दिया. फिर उसने मेरे सारे कपड़े उतार दिए और बोली- अब ठीक है!
भाभी मेरे लंड को बड़े ध्यान से देख रही थीं. ये मेरी बीवी ने देख लिया, उसने भाभी का हाथ पकड़कर मेरे लंड पर रख दिया और बोली- भाभी, मेरे चोदू का लंड कैसा लगा.. मस्त है ना!

फिर वो भाभी की चुत में उंगली करने लगी और मेरा हाथ उठाकर भाभी के मम्मे पर रख दिया. मैं धीरे से उनको दबाने लगा. भाभी भी अब मेरे लंड को सहलाने लगी थीं.

तभी मेरी बीवी ने कहा- क्या हुआ भाभी.. ये तो तुम्हारा मनपसंद खिलौना है, खुल कर प्यार करो.
ये कह कर उसने भाभी को मेरे लंड पर झुका दिया. भाभी भी मेरे लंड को चूमने और चूसने लगीं. फिर मैंने भी भाभी की चिकनी चुत को चूसना शुरू कर दिया. अब भाभी भी ज़ोर-जोर से मेरा लंड चूसने लगीं. कुछ ही देर में हम दोनों ठंडे हो गए और बगल में ही लेट गए.
कुछ देर बाद मैंने भाभी की चुची को सहलाना शुरू किया तो मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया. अब मैं भाभी की एक चुची को मुँह में लेकर चूसने लगा और एक हाथ से उनकी चुत को सहलाने लगा. वो भी मेरे लंड को सहलाने लगीं.
कुछ देर बाद मैंने भाभी की चुत को चूमना और चूसना शुरू किया तो वो भी 69 की पोज़िशन में आ गईं. मेरी बीवी बेड पर बैठ कर ये सब देख कर मुस्कुरा रही थी.
कुछ देर बाद मैंने भाभी को नीचे किया और उनके पैरों के बीच बैठ गया. अपने लंड को भाभी की चुत पर रख कर एक जोरदार शॉट मारा. उनकी चीख निकल गई. फिर मैंने भाभी के होंठों को चूसना शुरू किया और उनकी चुची को दबाने लगा.
कुछ देर बाद मैंने भाभी की चुत में लंड के धक्के मारने शुरू किए, तो वो भी कमर हिलाकर मेरा साथ देने लगीं.
फिर मैं ज़ोर-ज़ोर से भाभी को चोदने लगा. कुछ ही देर में भाभी झड़ गईं. फिर मैंने भाभी को घोड़ी बनाया और उनकी चुत में अपना लंड डाल कर फिर चुदाई करने लगा. कुछ देर बाद जब मैं झड़ने लगा तो मैंने खूब ज़ोर से धक्के मारने चालू किए. मैं और भाभी एक साथ ही झड़ गए. मैं उनके बगल में ही लेट गया.
कुछ देर में मेरी बीवी उनके पास आई और बोली- क्यूँ भाभी, मजा आया या नहीं?

भाभी ने कहा- क्या मस्त चोदू पति मिला है तुझे.. मजा आ गया.

इतना बोल कर भाभी मेरी बीवी रानी से लिपट गईं.
उस रात मैंने भाभी की दो बार चुदाई की और अपनी बीवी की एक बार चुत चोदी.

दोस्तो, कामुकता भरी मेरी चुदाई कहानी कैसी लगी ज़रूर बताना.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *