अपने भाई को पटा के चुदवाया

bhai ko pataya sex story in hindi. chudai story, chudai ki kahani, desi sex stories.

 

मै कानपुर की रहने वाली हू। मै अपने पापा:-मम्मी और भाई के साथ रहती हूँ। मेरी उम्र 20 साल की है। और मेरे भाई की उम्र 22 साल है। पापा प्रॉपर्टी डीलर हैं।

मुझे सेक्स में बहुत रूचि है। बॉयफ़्रेंड के साथ एक:-दो बार किया भी है। लेकिन अब मेरा ब्रेकअप हो गया है। अब मेरी चुत की खुजली मिटाने वाला कोई नहीं है।

एक बार पापा:-मम्मी तीन दिन के लिए मामा के घर शादी में गए हुए थे। तब मै और भाई घर में अकेले रह गए थे।
मेरी चुदाई बहुत दिनों से नहीं हुई थी। मै चुदास से तड़प रही थी। ऐसे में भाई की याद आई। मैने सोचा कि यह मेरी प्यास बुझा सकता है, मुझे उसे किसी तरह पटाना ही होगा।

Meri khusbu ka diwana Bhai ne chod diya

दोपहर का वक़्त था। मैने हम दोनों के लिए खाना बनाया और भाई को बुलाने के लिए उसके कमरे की तरफ गई। मैने कुछ आवाजें सुनी। तो खिड़की से अन्दर देखा। अन्दर का नजारा देखा कर मै एकदम दंग रह गई।

मेरा भाई आशु नंगा था और मेरी फोटो को लौड़ा के सामने रख कर मुठ मार रहा था। और आँख बंद करके बोल रहा था:- चूस सोनाली चूस। ये तेरा ही लण्ड है। और ज़ोर से चूस। खा जा इसको। तेरी याद में बहुत तड़फता है ये!

मैने देखा कि इसी के साथ वो झड़ने लगा, मेरी फोटो उसके लण्डरस से पूरी भर गई थी।
मै मन ही मन बहुत खुश हुई कि अब तो मै ज़रूर ही चुदने वाली हूँ।
मैने उसको आवाज़ दी। तो वो बोला:- तू चल। मै आता हूँ।

  • हम दोनों ने खाना खाया और बैठ कर टीवी
  • देखने लगे। मेरे मन पता नहीं कहाँ था।
  • मैने अचानक आशु से पूछा:- तूने कभी ब्लू
  • फिल्म देखी है?
  • वो हैरान हो गया। मै भी थोड़ा हँसने लगी।

फिर उसने धीरे से बोला:- हाँ दोस्तों के साथ देखी थी।
अब हम दोनों खुलने लगे।
उसने पूछा:- तूने देखी है?
मैने कहा:- हाँ।

भाई ने कहा:- चलो ब्लू:-फिल्म देखते हैं।
मैने कहा:- ठीक है।
हम दोनों बाहर हॉल में ही डीवीडी लगा कर फिल्म देखने लगे।

हम दोनों के अन्दर की आग भड़कने लगी।
मैने पूछा:- कभी सेक्स किया है?
तो वो बोला:- हाँ दो:-तीन बार रंडी को चोदा है।

उसकी यह भाषा सुन कर मुझ में हलचल सी होने लगी।

उसने मुझसे पूछा:- तुमने?
मैने कहा:- हाँ बॉयफ्रेण्ड के साथ किया है।
उसने कहा:- अभी भी है बॉयफ्रेण्ड?
मै बोली:- नहीं। हमारा ब्रेकअप हो गया है।
उसने पूछा:- क्यों?
मैने कहा:- उसका लौड़ा छोटा था। बहुत जल्दी झड़ भी जाता था। इसलिए एक दिन मैने ही उसे छोड़ दिया।

Mausi ki chudai hindi Sex kahani

मेरा भाई मेरे बगल में आया और बोला:- तो खुजली के लिए अब क्या करती हो?
मै उदास हो कर बोली:- बस तड़पती हूँ और क्या।

आशु ने मेरे बाल पकड़े और होंठों में होंठ सटा दिए। हम दोनों किस करने लगे।
भाई धीरे:-धीरे मेरे मम्मों को सहलाने लगा। मै भी गरम होती गई।
यह स्टोरी आप सेक्सस्टोरीजHD डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं !

भाई मुझसे चिपक गया। हम दोनों ऐसे चिपके थे। जैसे एक दो जिस्म एक जान हों। हम एक:-दूसरे से चिपके रहना चाहते थे। पर हमें कपड़े उतारने के लिए अलग होना पड़ा।

भाई मेरी कमीज की बटन में हाथ लगाया। मैने उसके बाल पकड़े और कहा:- रंडी के कपड़े उतारे नहीं। फाड़े जाते हैं।

भाई भी यह सुन कर जोश में आ गया, उसने एक झटके में सारे कपड़े फाड़ दिए, मुझे नंगा देख कर वो पागल सा हो गया, वो मुझ पर टूट पड़ा। उसका लौड़ा उफान पर था।
मैने कहा:- सीधे चोदेगा?
बोला:- इतनी मस्त माल को पहली बार चोद रहा हूँ। एक बार अभी चोद लेने दे। दोबारा आराम से करूँगा।

शीतल भाभी चुदाई के लिए मान गयीं

मेरे हामी भरते ही। उसने चुत में लौड़ा पेल दिया। मै चीख उठी:- मादरचोद तेल तो लगा लेता।
उसने मेरी बात अनसुनी कर दी। और लगा पेलने। बोलने लगा:- साली राण्ड इतने दिनों से तेरे नाम की मुठ ही बस मारी है। आज तो तुझे कुतिया की तरह चोदूँगा। तुझे अपने बच्चे की मम्मी बनाऊँगा।

  • मै भी चिल्लाने लगी:- चोद। बहनचोद।
  • चोद, भर दे मेरी चुत। रंडी हूँ में, तेरी। साले
  • असली मर्द है तू। मम्मी को भी चुदवाना है
  • तेरे से। उसने भी तेरा लौड़ा देख लिया है।
  • उसके बाद हम तीनों मजे करेंगे।

मै पागल सी हो गई थी। कुछ बड़बड़ा रही थी, मैने भाई से कहा:- आह्ह। भाई मै झड़ने वाली हूँ।
यह सुनकर भाई मुझे पागलों की तरह चोदने लगा।

कुछ देर बाद वो झड़ने वाला था, मैने कहा:- अन्दर ही छोड़ देना पानी।

भाई ने आखिरी झटका इतनी तेज़ मारा कि उसका लौड़ा मेरी बच्चेदानी से टकरा गया। और बिना तैयार हुए मै फिर से झड़ने लगी। चिल्लाने लगी और भाई से लिपटी गई।

हम दोनों ऐसे ही नंगे सो गए। लेकिन पहली बार चुदाई में जो मै दो बार झड़ी। उसका सुख मै कभी नहीं भूल सकती।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *